Wealthy Mindset Secrets – दौलत की सोच का रहस्य

Wealthy Mindset Secrets (दौलत की सोच का रहस्य)– अमीर इंसान इधर का भी और उधर का भी सोचते है और निर्धन मनुष्य सिर्फ इधर या उधर का इतना ही सोचते हैं वो ये मानते है की एक चीज़ के साथ दूसरी चीज़ की इच्छा रखना बेकार है. अमीर इंसान की दुनिया बहुत बड़ी होती है. जबकि गरीबो की दुनिया बहुत छोटी और सीमित होती है. उनके जीवन में अधिकता का आभाव होता है. जबकि दोनों इसी दुनिया में रहते है. फिर भी उनके जीवन में इतना बड़ा अंतर रहता है क्योकि दोनों की सोच भी अलग रहती है. गरीब और मध्यम वर्ग का व्यक्ति एक आभाव के साथ जीता है उसे हर जगह अपनी आकांक्षाओं को कम करना पड़ता है. वह हमेशा इस सोच के आधार पर जीता है की जितना मिला है उतना ठीक है इससे ज्यादा की इच्छा मत करो इससे ज्यादा हमें नहीं मिल सकता और शायद हर चीज़ नहीं मिल सकती है जैसे की संसार की सारी सुख सुविधाए और चीज़े, परन्तु हर इंसान को वह वास्तु और वो सुख सुविधा मिल सकती है जिसे वह सच में पाना चाहता है.

loading...

अमीर इंसान समझते है की थोड़ी सी समझ और सूझबूझ से आप हमेशा रास्ता निकाल सकते है जिसमे की आपको संसार का सर्वश्रेष्ठ मिल जाये. गरीब इंसान सिर्फ अपने परिवार या मधुर संबन्ध को या फिर अपने करियर को चाहेगा परन्तु अमीर इंसान इन सबको चाहेगा.

जब भी आपके मन में यह और वह पाने का प्रश्न उठे तो आप स्वयं से बस एक ही सवाल पूछे की आप इन दोनों को किस प्रकार हासिल कर सकते है. इस तरह के सोच विचार से आप अपने अन्दर एक ऊर्जा का सृजन करते है. जो आपको आभाव व सीमा की दुनिया से संभावनाओं और अधिकता की दुनिया में ले जायेगा. यह सिर्फ मनचाही चीजों के लिए ही नहीं बल्कि जीवन के समस्त क्षेत्रो के लिए उचित है.

Wealthy Mindset Secrets का एक उदाहरण-अमीर और गरीब वाली सोच

Wealthy Mindset Secret
मैंने हमेशा अपने माता पिता को कहता था की “मैं अपनी पूरी ज़िन्दगी ऐसे काम में नहीं गुजार सकता जिसे करने में मुझे आनंद न आता हो. मै उस काम को करके अमीर बनूँगा जिसे करने में मुझे मज़ा आता है जिसे मै पसंद करता हूँ.” इस बात पर उनकी प्रतिक्रिया आम थी की “तुम सपनो की दुनिया में हो और ख्याली पुलाव बना रहे हो. जिंदगी सिर्फ फूलों की सेज नहीं है बिजनेस होता है और एंजोयमेंट एंजोयमेंट, पहले अपनी रोज़ी रोटी की व्यवस्था करो फिर उसके बाद जो खाली समय बचे उसमे एंजोयमेंट करो.”

इसबात पे मैंने सोचा की अगर उनकी यह बात मानूंगा तो मेरा हाल भी मेरे पिताजी जैसा होगा. मुझे तो दोनों चीज़े चाहिये. यह काफी कठिन था जिस काम को मैं पसंद नहीं करता था वह काम मुझे 1-२ महीने करना पड़ा ताकि मैं खाना खा सकू और अपना किराया चूका सकूँ लेकिन मैंने दोनों को पाने काका संकल्प नहीं त्यागा. मैं किसी भी नापसंद नौकरी और बिज़नस में ज्यादा वक्त नहीं रुका और आखिरकार मैं अपने काम में अमीर बना. आज मैं सिर्फ वही काम या प्रोजेक्ट लेता हूँ जिसमे मुझे मज़ा आता है और दुसरो को भी मैं यही सिखाता हूँ.

इसलिए अमीर लोग पैसा और जीवन की बाकि चीज़े जैसे परिवार, खुशी, सेहत, साथ-साथ पाना चाहते है और यही उनकी सफलता है.

Images Credits: Images by Stuart Miles at FreeDigitalPhotos.net

Wealthy Mindset Secrets (दौलत की सोच का रहस्य) की blog post कैसी लगी इसके लिए हमें कमेंट करके बता सकते है.

Recent search terms:

  • amiro ki soch
  • soch ka rahasya
  • amiro soch
  • amiro ki socha
  • amiro ka rahsy hindi
  • amir or garib ki soch ka fark
  • amir ki socha hindi
  • इनसास की सोच
  • grib or amir buchoo me kyaa anter h samajik or arthik karn
  • garib aur amir ka soch
  • daulat ko kaise badhaye
  • amiro soch hindi me
  • amiro ks rahasy hindi
  • amir or garib ki soch
  • दौलत के सोच
  • amiro ke secret in hindi
  • amir log keya sochte hai
  • amirlogoksoch
  • amir soch in hindi
  • amir soch hone ke hindi me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five + = nine

Powered By Indic IME