What is ATM full form in Hindi | एटीएम का फुल फॉर्म

What is ATM full form in Hindi:
Friends! today ATM ka full form kya hai iski information ke साथ  parts of ATM machine, How ATM works & interesting facts about ATM की जानकारी देंगे. तो दोस्तों ATM के बारे में पूरी जानकारी के लिए नीचे पढ़िए. ATM Full Form in Hindi

ATM Full Form & Meaning in Hindi

ATM ka full form – Automated Teller Machine होता है. यह एक Electronic Telecommunication Device है, जिससे आप अपने Cash को Withdraw (निकालना) या Deposit (जमा) कर सकते हैं. इससे आप Cash की एक Account से दूसरे Account में Transfer कर सकते हैं, और इसके लिए किसी Bank Staff Members की भी जरूरत नहीं होती. Ise pi padhiye- EMI full form in Hindi.

अलग-अलग देशो में ATM को अलग-अलग नामों से जाना जाता है. जैसे कि: United States में इसे Automatic Teller Machine कहते है, Canada में इसे Automated Banking Machine (ABM) कहते हैं और Britain में इसे Cashpoint, Cashline या MiniBank भी कहा जाता है. ATM Machine आज के समय में बहुत चलन में है. आज हर कोई ATM Machine का इस्तेमाल करता है क्योकि इससे किसी भी वक़्त और कहीं पर भी Cash निकाला जा सकता है.

आपको ATM full form & meaning in Hindi तो पता ही चल गया है अब आपको इसके जरूरी पार्ट्स और इसके बारे में interesting facts की जानकारी के लिए और आगे पढ़िए ..

Parts Of ATM Machine / एटीएम के पार्ट्स

बदलते समय के साथ ATM में भी कई बदलाव आए हैं जिसके कारण उसके Parts में भी बदलाव किया गया है. आज के समय की ATM Machines में Card Reader, Display Screen, Keyboard, Speaker, Printer और Card Dispenser मुख्य Parts के तौर पर लगाये जाते हैं. हर एक Part की अपनी विशेषता होती है. Also read- B Tech full form in Hindi

जैसे:
1) Card Scanner: यह Debit या Credit Card पर लगी Magnetic Chip को Scan करता है. इसे जो Information मिलती है ये उसे Processor को भेज देता है जिससे कि Display पर User की सारी Information आ जाती है.

2) Display Screen: Basic Computer की तरह इसमें User को Transaction Process दिखती है.

3) Keyboard: यह User को Display पर आ रहे Options select करने के लिए और Pin Code Input करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. Also read this – Computer ka full form in Hindi

4) Speaker: इससे Pin Code Input करने की आवाज आती है और अगर User को कोई जरूरी सूचना देनी हो तो वह Speaker की मदद से ही दी जाती है.

5) Printer: Cash निकालने के बाद उसकी जानकारी जैसे कि कितना Cash निकाला गया है और किस वक़्त निकाला गया है यह सब Information Printer एक काग़ज की Slip पर Print करके देता है. What is DTP full form in Hindi

6) Cash Dispenser: यह ATM Machine का सबसे जरूरी Part यही से Cash निकलता है. इसकी एक खासियत यह भी है कि Dispense किये गए Cash को अगर न उठाया जाए तो एक उसे वापस Machine में ही लौट देता है और Transaction रद्द हो जाता है.

How ATM Works? / ए टी एम कैसे काम करता है

ATM Machine में एक Input और चार Output Terminals होते है, जो कि अलग-अलग Transactions में मदद करते हैं. जब User ATM card को Machine में लगता है तब वो Card को Scan करता है और User की Information लेने के लिए Bank से Communicate करता है Internet Service Provider (ISP) के जरिये. What is PC full form in Hindi.

इसमे लगा Host Processor Card से मिली Information को Display पर process करता है. जब User Cash का Amount और अपना Pin Code डालता है तब Machine, Cash Dispenser की मदद से Cash को Slot में निकाल देती है जिसे User ले जा सकता है. इसके साथ-साथ उसमें लगा Printer Cash Withdrawal की Slip भी देता है, जिसमे इस पूरे Transaction की जानकारी होती है. Also read CPU full form in Hindi

Uses Of ATM Machine / ए.टी.एम के उपयोग

आज के समय में ATM Machine एक बहुत जरूरी Device है. आज लगभग हर देश में ATM की सुविधा उपलब्ध है. इस machine से हम Cash से जुड़े कई सारे काम कर सकते हैं. सामान्यतः इसका इस्तेमाल Cash Withdraw करने के लिए किया जाता है. लेकिन इससे कई और काम भी किये जा सकते हैं.

ATM Machine से आप नीचे दिए गए सारे काम कर सकते हैं:

1) Cash Withdrawal: इससे आप Cash को अपने Bank Account में से निकाल सकते हैं.

2) Deposit : इससे आप Cash को अपने Bank Account में जमा कर सकते हैं.

3) Transfer: इससे आप एक Bank Account से दूसरे Account में Cash को Transfer कर सकते हैं वो भी बहुत आसानी से.

10 Most interesting facts about ATM / ए.टी.एम की 10 रोचक जानकारी

आज हर कोई ATM use करता है पर इसकी ऐसी बातें (interesting facts) भी है जिसे बहुत ही कम लोग जानते हैं. कुछ ऐसी ही बातें नीचे दी गयी हैं:

●  ऐसा माना जाता है कि ATM का अविष्कार John Shepherd Barron ने किया था जो कि एक Scottish नागरिक थे. सन 1965 ई. में एक दिन जब Barron, bank से Cash लेने गए तो उन्हें Bank बंद मिला. जिससे उनके मन में ये खयाल आया कि क्यों न एक ऐसी Machine बनाई जाए जिससे चौबीसों घंटे Cash निकाला जा सकता हो.

● John Shepherd Barron को पहली ATM Machine बनाने में लगभग 2 साल लगे थे.

●  John Shepherd Barron चाहते थे कि Pin Code 6 अंको का हो पर उनकी पत्नी को 6 अंक याद करने में परेशानी आ रही थी इसलिए उन्होंने 4 अंको वाले Pin Code का निर्माण किया.

● भारत में ATM की सुविधा पहली बार सन 1987 ई. में आई थी. इसे Hong Kong and Shanghai banking Corporation (HSBC) ने मुम्बई में लगाया था.

●  Cash ही नही बल्कि ए टी एम Machine से Gold भी निकाला जाता है. हालांकि ये सुविधा हर ATM में नही होती. यह सुविधा सिर्फ अबु धाबी में Emirates Palace Hotel की लॉबी में उपलब्ध है. वहाँ से 320 के सोने के आभूषण निकाले जा सकते हैं.

● ज़मीनी ही नहीं ATM Floating भी होते हैं. पहला Floating ATM भारत में केरल में SBI द्वारा लगाया गया था. यह एक बहुत बड़ी पहल थी.

● कुछ ऐसे भी ए टी एम होते हैं जीमने Bank Account की जरूरत भी नही पड़ती. लेकिन ऐसी सुविधा सिर्फ European देश जैसे Romania में उपलब्ध है. INDIA में ऐसे ATM आने में अभी वक़्त लग सकता है.

● ए टी एम को बनाने वाले Inventor का जन्म भारत देश में ही हुआ था.

● ATM Machine के अन्दर GPS लगा होता है जिससे अगर उसे चुराया भी जाये तो उसकी Location का पता आसानी से चल सकता है.

● ए टी एम में से अगर जबरदस्ती करके Cash को निकाला जाए तो उसमें रखी स्याही सारे Cash को खराब कर देती है.

Dear Readers, आपको ATM full form या Atm ka full form kya hai इसकी जानकारी कैसी लगी. इसके बारे में जो भी आपको अच्छा लगा या न पसंद आया हो हमें बताइए. अगर हिंदी / english में कही त्रुटी हो तो भी हमें अवगत करे. इस full form of ATM in hindi को अपने दोस्तों, रिश्तेदारों के साथ शेयर करे तो बहुत मदद होगी. ऐसी जानकारी और पढने के लिए हमारा फेसबुक पेज LIKE करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.