IAS Full Form in Hindi { एक आईएएस का मतलब }

दोस्तों आपको IAS Full form in Hindi, What is IAS officer, Eligibility, Salary के बारे में जानकारी देंगे. आईएएस का फुल फॉर्म / Full form of IAS & meaning in Hindi जानने के लिए इस पोस्ट को पढ़े. IAS full form in Hindi

Introduction of IAS officer:  हम सभी ने अपने जीवन में कभी ना कभी IAS Officer बनने का सपना तो देखा ही होता है. IAS Officer बनना एक गर्व की बात है, जिससे आप अपने देश को एक नया Development pathway provide कर सकते हैं. तो चलिए जान लेते हैं IAS से related हर Information के बारे में.

IAS Full form & Meaning / आई ए एस का फुल फॉर्म & मतलब

IAS ka full form –  India Administrative Service /  भारतीय प्रशासनिक सेवा, के नाम से जाना जाता है. IAS भारत सरकार द्वारा नियोजित प्रशासनिक सिविल सेवा है. यह IPS, IFS जैसी 24 सेवाओं में से एक है, जिसके लिए UPSC (UPSC full form), उम्मीदवारों का चयन करने के लिए Civil Services Examination (CSE) का आयोजन करती है.

Union Public Service Commission एक central recruiting agency है, जोकि Indian Services के Exams कराती है और साथ ही साथ U.P.S.C. एक constitutional body भी है जिसे Constitution में आर्टिकल 315 से 323 के पार्ट 14 में रखा गया है.

What is an IAS Officer / आईएएस  ऑफिसर क्या है 

हर साल लगभग 5 lack candidates UPSC Exam देते हैं, जिनमें से लगभग 1000 candidates IAS की पोस्ट के लिए select होते हैं. Selected candidates को 75 weeks की training दी जाती है और उसके बाद उन्हें District Collector/Deputy Commissioner की designation दी जाती है.

Collector के द्वारा ही पूरे जिले का कार्य होता है, जिले के सभी कर्मचारी और अधिकारी IAS Officer यानी Collector के अंतर्गत ही काम करते हैं. जिले के सभी महत्वपूर्ण कार्य Collector के आदेश द्वारा ही किए जाते हैं, जरूरत पड़ने पर वह अपने जिले में नई योजनाएं, नियम आदि भी लागू कर सकता है.

Eligibility and Age limit to become an IAS Officer/ आईएएस ऑफिसर बनने की वांछनीय योग्यता और उम्र 

IAS Officer बनने के लिए कुछ eligibility Criteria निर्धारित किये गए हैं, जो भी candidates, eligibility criteria के अंतर्गत आते हैं, वह सभी इस exam को दे सकते हैं. यह standards candidates की cast के अनुसार निर्धारित किए गए हैं.

Indian Administrative Service (IAS full form) में पद पाने के लिए उम्मीदवार का भारतीय होना अनिवार्य है.
• उम्मीदवार को इस exam को देने के लिए किसी भी फील्ड में Graduation की degree होनी अवश्य है, अगर किसी की Graduation Complete नहीं है या फिर उसके पास Graduation ki Degree नहीं है तो वह इस exam को नहीं दे सकता.

Age Limit for IAS / UPSC:

अलग अलग cast के candidates के लिए अलग-अलग age limit निर्धारित की गईं हैं.
General category के students की age 21-32 के बीच ही होनी चाहिए तभी वह इस पेपर को दे सकता है.
OBC students के लिए यह उम्र 21 से 35 के बीच होनी चाहिए.
SC/ST के उम्मीदवार 21 साल से 37 साल के बीच होनी चाहिए.
Physical disabled candidates के लिए आप UPSC की official site पर criteria check कर सकते हैं.

Minimum Qualifications for IAS:

IAS का exam देने के लिए आपको किसी University Topper, या बहुत अच्छा student होने की जरूरत नहीं है, यदि आप average student या below average student भी हैं तो भी आप इस को exam दे सकते हैं. कई ऐसे candidates जो अपने collage exams भी पास नहीं कर पाते थे, वह आज अपनी लगन और मेहनत से IAS OFFICER बन चुके हैं.

अगर आप किसी भी field से Graduated / Bachelor degree हो तो आप IAS exam के लिए apply कर सकते हों. यदि आप अपनी Graduation के अंतिम वर्ष में पढ़ाई कर रहे हैं तो भी आप IAS के लिए apply कर सकते हैं परंतु IAS के इंटरव्यू वाले चरण तक आपकी Graduation complete हो जानी चाहिए अन्यथा आपकी मान्यता रद्द कर दी जाएगी.

Number of attempt for IAS Exams:

परीक्षा देने हेतु number of attempts कुछ इस प्रकार हैं.

• General category के उम्मीदवार इस परीक्षा को 6 बार दे सकते हैं.
• OBC category के उम्मीदवार 9 बार इस पेपर को दे सकता हैं.
• SC/ST के उम्मीदवार इसे 21 year से till the age of 37 years तक दे सकते हैं.

Syllabus and Subjects for IAS Exam

Civil Services Examination (CSE) का Syllabus बहुत विशाल है जिसे पूर्ण रूप से discuss करना असंभव है. Exam का Syllabus बताने से पहले चलिए जान लेते हैं exam के पैटर्न के बारे में, जिसके अंतर्गत आपको IAS exam के Subjects के बारे में भी पूर्ण जानकारी मिल जाएगी.

सिविल सर्विस के exam में 3 मुख्य चरण होते हैं. जो निम्नलिखित हैं:

Stage-1(Prelims)-:

सबसे पहले Prelims पेपर देना होता है जिसके अंतर्गत दो objective papers शामिल होते हैं.
• पहला, General Studies का पेपर होता है जिसमें 100 objectives आते हैं जिन्हें 2 घंटे में solve करना होता है. यह पेपर कुल 200 marks का होता है.

• दूसरा पेपर CSAT का होता है जिसमें 80 objectives आते हैं जिन्हें 2 घंटे में solve करना होता है. यह पेपर भी 200 marks का होता है.
Prelims का पेपर completely Qualifying based होता है इसके marks final selection में महत्वता नहीं रखते हैं, यह केवल आपको एक step से दूसरी step में ले जाने के लिए मदद करता है, बिना Prelims को Quality किए आप IAS की आगे की steps पर नहीं जा सकते.

Stage-2(Mains Exam)-:

Prelims को Qualify करने के बाद आप Stage 2 के लिए eligible हो जाते हों. जो कि ‘Mains Exam’ होता है. Candidate को IAS इसकी पोस्ट दिलाने में Mains Exam के नंबर सबसे ज्यादा महत्वता रखते हैं, Mains के नंबर के basis पर ही candidate की पोस्टिंग की जाती है. इसके अंतर्गत 7 पेपर करवाए जाते हैं.

General Essay-: यह पेपर 250 नंबर का होता है जिसे आपको 3 घंटे में complete करना होता है. इस पेपर में आपको अलग-अलग प्रकार के निबंध आ सकते हैं जैसे कि Empowerment, Technology related, Society Issues, Politics इत्यादि. इस पेपर में आपको मुख्यतःदो essay लिखने होते हैं जिसके द्वारा आपकी दूरदृष्टि को आंका जाता है.

General Paper 1-: यह पेपर भी 250 नंबर का होता है जिसे आपको 3 घंटे में Complete करना होता है. इस पेपर में, Indian History, Geography, Culture और Society से related questions पूछे जाते हैं.

General paper 2-: यह पेपर भी 250 नंबर का होता है जिसे आपको 3 घंटे में Complete करना होता है. इस पेपर में, Constitution, Governance, Social Justice और International Relations से related questions पूछे जाते हैं.

General paper 3-: यह पेपर भी 250 नंबर का होता है जिसे आपको 3 घंटे में Complete करना होता है इस पेपर में, Technology, Economic Developments, Environment, Security, Disaster Management and Biodiversity से related questions पूछे जाते हैं.

General paper 4-: यह पेपर भी 250 नंबर का होता है जिसे आपको 3 घंटे में Complete करना होता है यह paper fully Ethics Integrated Aptitude पर based है. इस पेपर के द्वारा आपके विचार और भावनाओं को judge किया जाता है.

Optional Subjects-: ऊपर दिए गए सभी पेपर्स हर एक candidate को देना अनिवार्य है, साथ ही साथ हर एक candidate को दो Optional Exams भी देने होते हैं. इसे Optional Subjects इसलिए कहा जाता है क्योंकि UPSC द्वारा घोषित List में से candidate अपने अनुसार कोई भी Subjects चुनकर उन Subjects पर पेपर दे सकता है. हर एक पेपर 250 नंबर का होता है जिसे आपको 3 घंटे में complete करना होता है. आपको UPSC द्वारा घोषित 26 Subjects में से किन्हीं दो सब्जेक्टो को चुनकर, उनका exam देना होता है.

ऊपर दिए गए 7 exams आपको देने होते हैं जिनके द्वारा आपकी रैंक और पोस्ट निर्धारित होती है. इन 1750 नंबर में से आपके जितने भी नंबर आएंगे वही decide करते हैं कि आपको कौन सी और कहां पर पोस्ट मिलेगी. इसके अतिरिक्त आपको 3rd stage में पहुंचने के लिए दो और exams को देना होता है. यह मात्र Qualifying Exams होते हैं, जिनके नंबर को फाइनल रिजल्ट में count नहीं किया जाता परंतु इसे Qualify किए बिना 3rd stage पर नहीं पहुंच सकते.

Qualifying but not scoring-: हर candidate को दो Qualifying Exams देने होते हैं जो कि उन्हें stage 3 की ओर ले जाने में एक महत्वपूर्ण कदम होता है.

• English language-: यह पेपर 300 नंबर का होता है जिसे 3 घंटे में पूर्ण करना होता है, इस पेपर को Qualify करने के लिए और तीसरी stage की ओर एक और कदम बढ़ाने के लिए candidate को कम से कम 100 नंबर लाने होते हैं.

II Language-: इस पेपर के लिए candidate कोई भी एक Indian Language चुन सकता है जो कि UPSC द्वारा निर्धारित की गईं है और उस Language का पेपर दे सकता है. UPSC द्वारा 22 लैंग्वेज निर्धारित की गई है जिनमें से कोई भी एक Language चुन कर उस पर पेपर दिया जा सकता है.

Stage-3( Interview)-:

IAS Officer बनने के लिए Stage 1और Stage 2 clear करने के बाद आपको Stage 3 clear करना होता है जिसमें आपका Personality Test लिया जाता है. यह Personality Test जो कि एक interview होता है, लगभग 45 मिनट तक चलता है. यह test 275 नंबर का होता है, तो इस तरह IAS का एग्जाम 2025 नंबर का होता है. इंटरव्यू में selected candidates को ट्रेनिंग के लिए भेज दिया जाता है, और ट्रेनिंग खत्म होने के बाद उसे Collector की पोस्ट से सम्मानित किया जाता है. Also know SSC ka full form in Hindi.

Power, Role and Responsibility of an IAS officer-:

जिले के सभी कर्मचारी और अधिकारी IAS Officer यानी Collector के अंतर्गत ही काम करते हैं. जिले के सभी महत्वपूर्ण कार्य Collector के आदेश द्वारा ही किए जाते हैं. कई सारे कॉन्ट्रैक्ट्स को IAS Officer ही स्वीकृति प्रदान करता है.

IAS Officer पर किसी भी नेता या political Parties का दबाव नहीं होता और वह अपने अधीन कर्मचारियों और अधिकारियों पर कार्यवाही कर सकता है और उन्हें निलंबित भी कर सकता है. IAS अधिकारी सीधे संबंधित राज्यों के अध्यक्ष और मुख्यमंत्रियों से जुड़ा हुए रहते हैं.

जरूरत पड़ने पर वह नया नियम और कोई अन्य योजना भी निकाल सकते हैं. Recovery of tax, नियम और कानून को बनाए रखना, आपातकालीन स्थिति में तुरंत action लेना और District के contracts का ध्यान रखना आदि IAS की responsibilities होती हैं.

Facts about IAS Officer’s Life-:

जान लेते हैं कुछ Interesting facts IAS Officer की Life के बारे में-
• I.A.S Officer की सैलरी 50 से 70 हजार होती है.
• Officer को रहने के लिए एक बड़ा घर और Official काम के लिए गाड़ी और एक driver भी दिया जाता है.
• आई ए एस ऑफिसर और उनकी family को medical सुविधा बिल्कुल मुफ्त में दी जाती है.
• I A S officer की स्वीकृति से ही कॉन्ट्रैक्ट्स लागू किए जाते हैं, यदि Officer को अच्छा नहीं लगता तो वह किसी भी समय उस कांटेक्ट को बंद करवा सकता है. Also read PCS full form in Hindi.

Difference between IAS and PSC-:

  • UPSC का exam National Level का होता है, वहीं PSC एक State Level exam होता है.
  • IAS exam से All India में कहीं पर भी Service को join किया जा सकता है, पर PSC exam से सिर्फ state में ही Service को join किया जा सकता है.
  • UPSC में Concept based questions पूछे जाते हैं और PSC में Fact based. State PSC में state based questions पूछे जाते हैं और UPSC में, National और International based questions पूछे जाते हैं.
  • PSC exams में negative marking नहीं होती है, और दूसरी ओर UPSC में 1/3 negative marking होती है. PSC में केवल अपनी state की language लेना जरूरी है वही IAS में English और एक अन्य language लेना अनिवार्य है.

Learn more about IAS full form in Wikipedia of I.A.S

दोस्तों आपको IAS full form, eligibility, syllabus & subjects & fact of IAS officer life की जानकारी कैसी लगी हमें बताये. IAS ka full form & meaning in Hindi में अगर कोई सुधर की जरूरत हो तो भी आप बताइए.  इस पोस्ट को FB/Twitter/G+ पे शेयर करके हमारी मदद करे तो अनुकम्पा होगी. शुक्रिया.

Originally posted 2018-03-12 23:23:13.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.