YOUR EXISTING AD GOES HERE

BMW ka Full Form | इतिहास & रोचक जानकारी

YOUR EXISTING AD GOES HERE

BMW ka Full Form in Hindi

दोस्तों इस लेख में आपको BMW ka full form, BMW ki History & interesting facts in Hindi के बारे में जानकारी दी गयी है.

YOUR EXISTING AD GOES HERE

BMW Kya Hai / BMW in Hindi

BMW की गाडि़यों में तो आपने कई बार सफर किया होगा, या फिर आपका सपना होगा ऐसी महंगी कार को खरीदना। लेकिन क्‍या आप जानते हैं BMW असल में क्‍या है? आइए हम आपको आज इससे जुड़ी हर जानकारी से रूबरू कराते हैं। BMW ‘Bayerische Motoren Werke’ (बी एम डब्ल्यू) नाम की एक जर्मन कंपनी है। जो कि ऑटोमोबाइल बनाती है। यह कंपनी लक्‍जरी गाडि़यां और Bikes बनाने के लिए जानी जाती है।

इस कंपनी की स्‍थापना 1916 में की गई थी, जिस हिसाब से यह 100 साल पुरानी ऑटोमोबाइल कंपनी में से एक है। इस कंपनी का लोगो ही इसकी अहमियत बताने के लिए काफी है। BMW की 3 सीरीज़ 2017 में अमेरिका में # 2 सबसे अधिक बिकने वाली लक्जरी कार थी। BMW की भारत में कई कारें बिक्री के लिए उपलब्ध हैं।

YOUR EXISTING AD GOES HERE

भारत में बीएमडब्ल्यू की जो कारें बिक्री के लिए उपलब्ध हैं उनमें 7 sedan cars, 7 SUV cars, 3 coupe cars, 1 convertible car शामिल हैं। भारत में BMW की डीलरशिप का बड़ा नेटवर्क है।

आज की तारीख में कंपनी के देशभर में कुल 21 Showrooms हैं जो देश के 14 अलग-अलग शहरों में हैं। इस कंपनी की कारें करोड़ों के दामों पर बिकती हैं। साल 2007 में कंपनी ने Chennai में अपने पहले Manufacturing unit की स्थापना की थी।

BMW ka फुल फॉर्म क्‍या है? / BMW Full Form in Hindi

BMW ka full form – ‘Bayerische Motoren Werke’  है। इस कंपनी की Foundation Ranz Josef Popp ने साल 1916 में की थी। इस कंपनी का headquarter जर्मन के मुनिच नाम के शहर में है। यह कंपनी 100 साल पुरानी है। इस ब्रांड को लेकर लोगों का विश्‍वास काफी अडिग है।

YOUR EXISTING AD GOES HERE

Rolls-Royce Motor Cars की पेरेंट कंपनी भी BMW ही है। अपने लक्‍जरी स्‍टाइल की लिए जाने जानी वाल कपंनी बीएमडब्ल्यू को “German Big 3” में रखा गया है बाकि के दो Mercedes-benz और Audi है।  बीएमडब्ल्यू की ब्रांच भारत समेत संयुक्त राज्य अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका, कनाडा, भारत, चीन और जापान में भी है।

जैसा कि हम आपको बता ही चुके हैं कि BMW की स्थापना 100 साल पहले 1916 में हुई थी, लेकिन कंपनी ने Luxury Automobile का उत्पादन शुरू नहीं किया था। कंपनी ने विश्व युद्धों के दौरान और उसके बाद मुख्य रूप से सैन्य विमान इंजन का निर्माण किया।

इसका मुख्‍य उददेश्‍य  Aircraft के Engine बनाना ही था। आज हर किसी बड़े सेलेब या किसी भी हस्‍ती के पास बीएमडब्ल्यू कार आपको आसानी से देखने को मिलेगी। BMW ने अपनी सबसे पहली कार का नाम Dixi रखा था। इस कंपनी ने 1937 में दुनिया की सबसे तेज़ motorcycle का अविष्कार किया था जिसकी स्पीड 279 km/h थी। BMW अब कई प्रकार के मॉडल पेश और मिनी, रोल्स-रॉयस ब्रांडों की भी मालिक है। BMW का लोगो 1917 में डिजाइन किए जाने के बाद से कभी बदला नहीं।

बी एम डब्ल्यू का  इतिहास / History of BMW in Hindi

24 सितंबर 1882 में Karl Friedrich Rapp का जन्म हुआ। वह आगे चलकर मैकेनिकल इंजीनियर बने और 1918 में उन्होंने Rapp Motorenwerke GMBH नाम की स्‍थापना की। इस कंपनी में एयरक्राफ्ट और वाहनों के इंजनों का निर्माण किया जाता था। पहले world war के समय Aircraft engines की डिमांड भी काफी बढ़ गई। इस डिमांड के चलते उन्होंने 7 मार्च 1916 को दो कम्पनियों Bayerische Flugzeugwerke और Automobilwerk Eisenach के साथ मिलकर एक नई कंपनी बनाई और जिसका नाम उन्होंने  ‘Bavarian Motor Works’ रखा।

YOUR EXISTING AD GOES HERE

जिसको हम शार्ट में BMW कहते हैं। दरअसल यह नाम, BMW का इंग्लिश नाम है। जर्मन में इसे Bayerische Motoren Werke कहते हैं। cars और motorcycle बनाने वाली इस कंपनी  ने अब तक 2,279,503 ऑटोमोबाइल बनाएं हैं। कंपनी ने 1923 में अपनी पहली motorcycle BMW R 32 कान बनाई थी।

बीएमडब्ल्यू द्वारा बनाया गया पहला विमान इंजन 1918 की BMW IIIa Inline-six liquid-cooled engines था, जो काफी ऊंचाई पर अच्‍छा प्रदर्शन करता था। यह इंजन Military को काफी पसंद आया। यहां से BMW को और इंजन के लिए बड़ा ऑर्डर भी मिला। लेकिन 1918 में World War हो जाने के बाद हालात कुछ ऐसे बनें कि बीएमडब्ल्यू को Aircraft engines बनाना बंद करना पड़ा।

जिसके बाद कंपनी ने खेतों में इस्‍तेमाल किए जाने वाले  Pump, Bus और Tractor के इंजन जैसी बहुत सारी चीजें बनानी शुरू की। 1923 में ही BMW ने motorcycle बनाना भी शुरू कर किया। इस कंपनी की पहली सफल motorcycle Model R32 थी। 1928 में बीएमडब्ल्यू ने Automobilwerk Eisenach नाम की कंपनी को खरीद कर कार का भी production करना शुरू कर दिया और फिर इस कंपनी की पहली कार BMW 3/15 लांच हुई।

1939 में दूसरे World War के दौरन में कंपनी ने फिर से, Aircraft engines बनाने शुरुआत किए, लेकिन इसी बीच कंपनी को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ा। उनके कई फैक्ट्रीज पर बमबारी की गई। कुछ फैक्ट्रीज को सोवियत सरकार ने ज़ब्त भी कर लिया था। कम्पनी पर motorcycle और car बनाने पर भी रोक लगा दी गई थी, लेकिन बावजूद इसके कपंनी ने  किचन का सामान और cycle जैसी बहुत सारी चीजों का निर्माण करना शुरू किया।

साल 1947 में बीएमडब्ल्यू को फिर से motorcycle बनाने की permission मिल गई, जिसके बाद 1948 में R24 मॉडल की एक motorcycle लॉन्च हुई। तब तक कंपनी पर से car बनाने का बैन हटा नहीं था। साल 1951 में जाकर इस बैन को हटाया गया। जिसके बाद बीएमडब्ल्यू की car 501 लॉन्च की हुई। इस कार की कीमत ज्‍यादा होने के चलते लेकिन बीएमडब्ल्यू की कार बहुत ही महँगी थी, जसिकी ब्रिकी ज्‍यादा हो नहीं पायी, ऐसे में 1954 तक बीएमडब्ल्यू की कमाई का मुख्य जरिया motorcycle ही थी।

कंपनी में मुनाफे की कमी के बीच 1955 में बीएमडब्ल्यू ने 10,000 कारों को बेचा। हालांकि इससे घाटा ही हो रहा था, 1960 में बीएमडब्ल्यू के हालात ऐसे बन गए कि कंपनी बिकने की कगार पर आ गयी। जिसके बाद 1961 में बीएमडब्ल्यू की “1500 मॉडल” लांच हुई, जो कंपनी के लिए  Lucky साबित हुई, और इसे sportscar के तौर पर लोगों ने खूब पसंद किया। जहां से कंपनी को profit होना शुरू हुआ।

1994 में BMW ने “Rover Group” को खरीद लिया, जिसमें उस समय लैंड रोवर भी शामिल थी। हालंकि, यह डील बीएमडब्ल्यू के लिए फायदेमंद नहीं रही और कपंनी ने आगे चल कर इसे FORD को बेच दिया। साल 1998 में बीएमडब्ल्यू ने  Rolls Royce के Logo और नाम को खरीदा और फिर 2003 में Rolls Royce के पुनर्गठन के बाद बीएमडब्ल्यू के ओनरशिप में Rolls Royce फेंटम रिलीज किया गया।

BMW के बारे में रोचक तथ्य

बीएमडब्ल्यू की कार न सिर्फ भारत बल्कि पूरे विश्‍व में लोगों की पसंदीदा Brands में से एक है। आइए जानते हैं इसा कंपनी के बारे में कुछ रोचक बातें, जिन्‍हें जानकारी आपअंचभित हो उठेंगे। यह कंपनी 102 साल पुरानी है।

इसकी स्‍थापना कार्ल रैप ने 1916 में की थी।  पहले इसका नाम रैप मोटर वर्क्‍स था, जिसे बदलकर बाद में बदलकर ‘Bavarian Motor Works’ रख दिया। बीएमडब्ल्यू की फुल फॉर्म ‘Bavarian Motor Works’ (बेवेरियन मोटर वर्क्स) है। DIXI BMW द्वारा बनाई गई पहली कार थी। बीएमडब्ल्यू का Headquarter जर्मनी के Munich शहर में स्थित है। बीएमडब्ल्यू के Headquarter को बीएमडब्ल्यू इंजन की तरह डिजाइन किया गया है।

बीएमडब्ल्यू ने अपनी खुद की Lamborghini बनाई है। बीएमडब्ल्यू आज भी उनके लिए कार पार्ट्स बनाती है जिनके पास आज भी बीएमडब्ल्यू के बनाये Classic Car हैं जो World War 2 जितना पुराना है। BMW ने 1937 में दुनिया की सबसे तेज चलने मोटरसाइकिल का निर्माण किया था, जिसकी स्पीड 279 km/h थी।

बीएमडब्ल्यू ट्रेन और हवाई जहाज के अंदरूनी हिस्से को भी डिजाइन करती है। 2009 में, बीएमडब्ल्यू ने लगभग 1.4 मिलियन वाहनों का उत्पादन किया था। Rolls Royce भी बीएमडब्ल्यू कंपनी का ही एक अंग है। पिछले 35 सालों से बीएमडब्ल्यू का slogan “The ultimate driving machine” बदला नहीं है।

Ye full form & info jaroor Janiye:

ISI ka full form in Hindi

BHEL Kya hai & full form Hindi

निष्‍कर्ष

आज हमारे इस पोस्‍ट में बीएमडब्ल्यू के बारे में जानकारी दी गई है। हमें उम्‍मीद है कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। BMW ka full form & info in Hindi की इस पोस्ट को सोशल मीडिया यानि Facebook, Instagram, WhatsApp Groups & Twitter etc में जरूर शेयर करिए.

अगर BMW History & info in Hindi की इस पोस्ट में कोई त्रुटी या update की जरूरत होतो हमें जरूर कम्मेंट करिए. इस पोस्ट को अपडेट किया जायेगा.

Leave a Comment

YOUR EXISTING AD GOES HERE
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: